पैक्स में धान बेचने के लिए किसान कार्यालय का लगा रहे चक्कर

80
0
SHARE

KAIMUR: जिले के डंडवास पैक्स में धान बेचने के लिए किसान पिछले डेढ़ महीने से लगातार कार्यालय का चक्कर काट रहे हैं। पैक्स तो खुला है लेकिन पैक्स अध्यक्ष और प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी द्वारा मनमाने तरीके से खरीदारी करने के कारण कई किसानों का धान अभी भी खलिहान में रखे रखे जम रहा है, और खरीदारी की बात पर पैक्स अध्यक्ष किसानों के बातों को टालमटोल कर रहे है। किसान पैक्स अध्यक्ष से लेकर जिलाधिकारी तक अपना धान पैक्स में बेचने का गुहार लगा रहे हैं फिर भी इनके धान का कोई खरीदार नहीं मिल रहा। कई किसानों ने पैक्स अध्यक्ष और प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी के खराब रवैया को देखते हुए अपना धान औने पौने दाम पर बिचौलीये को बेचने को मजबूर हुए।

किसान बताते हैं हम लोगों का नवंबर माह में ही धान की कटाई हो गई थी। कई बार पैक्स अध्यक्ष के पास और पैक्स के गोदाम के पास हम लोगों ने अपने धान बिक्री के लिए गए लेकिन हम लोगों को सिर्फ आश्वासन मिल रहा है कि आज धान की खरीदारी हो जाएगी तो कल हो जाएगी। लेकिन धान की खरीदारी नहीं हो रहा है। बिचौलिए धान तेरह सौ और 14 सौ रुपये प्रति क्विंटल की दर से मांग रहे हैं। अगर उनको हम लोग धान देंगे तो हम लोग का लागत भी नहीं निकल पाएगा। जिलाधिकारी से 15 दिन पहले गुहार लगा चुके हैं लेकिन अभी तक कोई धान का खरीदार नहीं है। धान खलिहान में रखे रखे अब जमने भी लगा ।

प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी करते हैं डंडवास पैक्स में विलंब से धान की खरीदारी शुरू होने के कारण अभी पच्चास प्रतिसत भी धान की खरीदारी नहीं हो पाई है। सरकार का 31 जनवरी तक धान खरीदारी का अंतिम तिथि है ऐसे में लक्ष्य पूरा नहीं किया जा सकता है। उसके लिए समय को बढ़ाना पड़ेगा तभी सभी की खरीदारी हो पाएगी ।