जमालपुर में पेंटिंग एवं स्लोगन लेखन प्रतियोगिता का किया आयोजन

1265
0
SHARE

जमालपुर(प्रिंस दिलखुश): मद्यनिषेध एवं नशामुक्ति जागरूकता कार्यक्रम के तहत रेलवे स्टेशन जमालपुर के प्लेटफार्म संख्या एक के जिला रेल पुलिस कार्यालय के पास पेंटिंग एवं स्लोगन लेखन प्रतियोगिता का आयोजन रेल पुलिस जिला जमालपुर एवं मुंगेर पुलिस के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया गया।

Read Latest Jamalpur News

प्रतियोगिता में अलग-अलग स्कूलों के करीब 400 बच्चों ने भाग लिया।जिसमें सरस्वती शिशु मंदिर जमालपुर,सरस्वती विद्या मंदिर,नोट्रेडेम एकेडमी जमालपुर,नोट्रेडेम एकेडमी मुंगेर,संत कोलम्बस सहित अन्य विद्यालय के छात्र-छात्राएं शामिल हुए।

Read More Munger News in Hindi

प्रतियोगिता का उद्घाटन रेल पुलिस(जिला जमालपुर)अधीक्षक स्वप्नाजी मेश्राम एवं मुंगेर पुलिस अधीक्षक आशीष भारती ने संयुक्त रुप से फीता काटकर किया।

sp bhartiप्रतिभागियों को संबोधित करते हुए मुंगेर एसपी आशीष भारती ने कहा कि बच्चे चित्रकला एवं स्लोगन के माध्यम से कुछ ऐसे नए एवं अनोखे चित्र एवं स्लोगन से समाज में हो रहे शराबबंदी से आए बदलाव को दर्शा सकते है।जिसमे हमारे समाज में जागरूकता की सफल लौ जल सके।उन्होंने कहा कि रेल पुलिस एवं मुंगेर पुलिस आगे भी इसी तरह भिविन्न आयोजन कर नाशमुक्ति जागरूकता कार्यक्रम चलाती रहेगी।

वहीं रेल एसपी स्वपनाजी मेश्राम ने अपने संबोधन में कहा कि नशामुक्ति जागरूकता के तहत आज यहाँ दो तरह की प्रतियोगिता आयोजित की गई हैं।

जिसमे पेंटिंग के माध्यम से बच्चे शराबबंदी सम्बंधित पेंटिंग से हमारे समाज में आए बदलाव के बारे में बता सकते है,और दूसरा स्लोगन के माध्यम से शराबबंदी के प्रभाव और समाज में आम जन शराब का बहिष्कार करने को प्रतिबद्ध हो जाएं।

Read Bihar News in Hindi

उन्होंने कहा कि इस प्रतियोगिता में सौ प्रतिभागियों के उपस्तिथ होने की आशंका थी।लेकिन तीन सौ बच्चो को देख कर लगता है,रेल पुलिस द्वारा आयोजित शराबबंदी जागरूकता अभियान अपनी सफलता को एक नई दिशा और दशा देगा।

उन्होंने कहा कि जिस बच्चे की पेंटिंग और स्लोगन सबसे अच्छी होगी,उसे रेल पुलिस के अलग-अलग थानो में लगाए जाएंगे।वहीँ इस प्रतियोगिता के सफल प्रतिभागियों को कल शुक्रवार को स्टेशन परिसर में पुरुस्कृत किया जाएगा।

मौके पर जीआरपी जमालपुर थानाध्यक्ष कृपासागर, जानिशा आर्ट के डायरेक्टर मो.ईशा, प्राचार्य राजेश कुमार, प्रो.राजीव नयन, समाजिक कार्यकर्त्ता रिंकू सिंह सहित रेल पुलिस के अधिकारी उपस्तिथ थे।