गैस टैंकर पलटने से लोगों में दहशत, पुलिस ने आग से संबंधित किसी भी चीज को न जलाने की दी हिदायत

738
0
SHARE

कैमूर समाचार /संवाददाता- (Kaimur News)

कैमूर जिले के मोहनिया थाना क्षेत्र के कौड़ीराम गांव के पास अनियंत्रित होने के कारण इंडेन कंपनी का गैस से भरा टैंकर बीच सड़क पर पलट गया। जिसके कारण पूरी तरह से आवागमन बाधित हो गया। टैंकर पलटने के 7 घंटे बीत जाने पर भी कोई भी टेक्नीशियन गाड़ी के पास नहीं पहुंचा।

Read More Kaimur News in Hindi

पुलिस प्रशासन ने एनएच-2 के दोनों तरफ से गाड़ियों का आवागमन बंद करा दिया। 2 किलोमीटर दूरी तक गांव और गाड़ियों की आवाजाही पूरी तरह से ठप कर दिया गया। गांव में किसी को भी आग से संबंधित कोई भी चीज नहीं जलाने की अलाउंसमेंट कई बार किया गया। गैस टैंकर से गैस का रिसाव लगातार जारी है। इस जाम में एंबुलेंस पर्यटक वाहन और बच्चों की गाड़ियां फंसा रहा, कुछ एंबुलेंस को किसी तरह से धक्का मार के वहां से निकाला गया। इसी बीच बिहार सरकार के स्वास्थ्य मंत्री कि काफिला पटना जाने के लिए वाराणसी से इसी रास्ते से होकर जा रहा था। काफीले को भी 1 किलोमीटर पहले गाड़ी को बंद करा कर उसे धक्का मार कर निकाला गया और पूरे 5 किलोमीटर के गांव की बिजली सप्लाई पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। वहीं लोगों ने बताया कि अहले सुबह 5:00 बजे के लगभग गैस टैंकर अनियंत्रित होकर जो सासाराम से वाराणसी की तरफ जा रहा था अनियंत्रित होकर पलट गया पलटने के आधे घंटे बाद पहुंची पुलिस ने पूरी तरह से आवागमन को बंद करा दिया है और ग्रामीणों को हिदायत दिया कि वह किसी भी प्रकार के आग से संबंधित चीजों को ना जलाएं। वहीं एनएचआई ने बताया कि जैसे ही हमलोग को सूचना मिली, हमलोग सड़क पर आ गए और लोगों को सुरक्षा के लिए हमलोगों ने पूरी तरह से आवागमन को बंद करा दिया है और यहां से गुजरने वाली गाड़ियों को भी बंद करा दिया है। इसके लिए टेक्नीशियन को भी बुलाया गया है। ग्रामीणों ने बताया कि घर में शादी था, दुल्हन को लेकर घर वाले और बाराती रास्ते मे फंसे हैं। घर का चूल्हा भी बंद है। बच्चों को बाहर से बिस्किट मांगा कर देना पड़ रहा है।