पटना के पहाड़ी पर बनेगा अंतरराज्यीय बस टर्मिनल

2641
0
SHARE

पटना: बिहार की राजधानी पटना में नए अंतरराज्यीय बस टर्मिनल (आईएसबीटी) बनाने का रास्ता साफ हो गया है। टर्मिनल की योजना को राज्य सरकार ने मंजूरी दे दी है। इस टर्मिनल बनने में 331.61 करोड़ की लागत आएगी। साथ ही हुडको ने इस परियोजना के लिए 260 करोड़ रुपए का कर्ज मंजूर किया है। इस योजना में राज्य सरकार बाकी 71.61 करोड़ रुपए की राशि अनुदान के रूप में देगी।

कहा जा रहा है कि इस बस टर्मिनल से प्रतिदिन तीन हजार बसों का परिचालन होगा। यहां से बिहार और बिहार से बाहर जाने वाली बसों का परिचालन होगा। फिलहाल मीठापुर स्थित बस स्टैंड से बसों का परिचालन किया जाता है। यहां से प्रतिदिन छह सौ बसों का परिचालन होता है। लेकिन मीठापुर बस स्टैंड में पीने का पानी, शौचालय आदि बुनियादी सुविधाओं का घोर अभाव है।

आईएसबीटीमें चार ब्लॉक का निर्माण होना है। सभी आठ मंजिला होंगे। अंतरराज्यीय और राज्य के अंदर चलने वाली बसों के लिए अलग-अलग स्टैंड का निर्माण कराया जाएगा। यात्रियों के लिए टर्मिनल पर शॉपिंग मॉल, टायलेट और कैटरिंग की सुविधा उपलब्ध होगी।

पहाड़ी पर प्रस्तावित इस नए आईएसबीटी का निर्माण करीब 25 एकड़ भूमि पर किया जाना है। राज्य मंत्रिमंडल ने दो जनवरी 2014 को इस योजना को मंजूरी दी थी। हुडको से कर्ज लेकर बुडको (बिहार राज्य आधारभूत संरचना विकास निगम लिमिटेड) द्वारा इसका निर्माण कराया जाना था, लेकिन बैंक गारंटी नहीं देने के कारण यह योजना लटक गई।

राज्य सरकार की गारंटी के बाद अब इसके निर्माण का रास्ता खुल गया है। जल्द ही टेंडर कर निर्माण कंपनी को काम की अनुमति दी जाएगी। इसका निर्माण तीन साल पूरा किया जाना है।