पटना पुलिस ने 2.5 लाख रुपये के जाली नोटों के साथ अपराधी को बैंक में दबोचा

895
0
SHARE

पटना: राजधानी के दानापुर इलाके से पटना पुलिस ने 1000 के जाली नोट चलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने इस गिरोह के दो सदस्यों को 2.50 लाख रुपए नगदी के साथ ही दबोच लिया है।

Read More Patna News in Hindi

घटना सोमवार की है। एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि बैंक से शिकायत मिलने का बाद पुलिस ने एक विशेष टीम बनाकर इस गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है।

Read Latest News on Manu Maharaj

तरूण कुमार और चंद्रहास पंजाब नेशनल बैंक और बैंक ऑफ बड़ौदा के जानीपुर शाखा में 2.50 लाख रुपये के जाली नोटों के साथ जमा करने पहुंचे थे। एसएसपी के अनुसार यह गिरोह नेपाल से नोट लाते थे और बैंक में जमा करते थे।

Read Latest News on Notebandi

पूछताछ में पता चला कि दोनों एक गिरोह से ताल्लुक रखते हैं। गिरोह का सरगना फिलहाल फरार चल रहा है। पुलिस उसे पकड़ने के लिए राजधानी के कई इलाकों में छापेमारी कर रही है। पूछताछ में पता चला है कि जाली नोटों की एक बड़ी खेप नेपाल के रास्ते पटना के कई इलाकों में पहुंचाई गयी थी।

कारोबारी इस मंशा से जाली नोट लेकर बैंक पहुंचे थे कि पुराने नोटों को जमा करने की समय सीमा खत्म होने से पहले नोटों को जमा कर लिया जाए। पहले तरूण को पंजाब नेशनल बैंक की शाखा से 1.5 लाख रुपये के जाली नोटों के साथ दबोचा गया फिर उससे पूछताछ कर बैंक ऑफ बड़ौदा से चंद्रहास को 1 लाख रुपये का जाली नोटों के साथ पकड़ा गया। बैंक कर्मियों ने जाली नोटों की सूचना पुलिस को दी थी।

दोनों गिरफ्तार अपराधियों से पुलिस की पूछताछ के बाद यह बात सामने निकल कर आ रही है कि जिन जाली नोटों की बड़ी खेप को बिहार लाया गया था। उसमें से काफी रुपए गिरोह के सदस्यों द्वारा भुनाए जा चुके हैं। पुलिस अभी पूछताछ में जुटी है।

वहीं पटना के एसएसपी मनु महाराज ने कहा कि सरगना की तलाश जारी है, संभव है कि एक से दो दिनों के अंदर उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। कुछ साक्ष्य भी मिले हैं, जिससे जल्द ही गिरोह के सरगना की गिरफ्तारी हो सकती है।