नीतीश राज में जन शिकायत को टाला नहीं जा सकता -ओमप्रकाश सेतु

305
0
SHARE

पटना- बिहार प्रदेश युवा जनता दल (यू) के प्रदेश प्रवक्ता ओमप्रकाश सिंह सेतु ने कहा है कि नीतीश राज में जन शिकायतों को टाला नहीं जा सकता। बिहार लोक शिकायत निवारण अधिकार कानून बिहार की आम जनता के सवालों व शिकायतों के निराकरण के लिए लोकसेवकों को बाध्य करता है। बड़ी संख्या में लोग नीतीश सरकार से मिली इस सुविधा का लाभ ले रहे हैं। हाल के आंकड़ों के अनुसार शिकायत निवारण केंद्रों में अब तक दो लाख 23 हजार 627 शिकायतें दर्ज हुई हैं। इनमें दो लाख दो हजार का निष्पादन भी कर दिया गया है और केवल 19 हजार 300 आवेदन लंबित हैं। गया, पटना व सीतामढ़ी जिलों के लोग इसका लाभ लेने में अव्वल हैं। गया में 12 हजार 724, पटना में 12 हजार 380 और सीतामढ़ी में 10 हजार 612 शिकायतें दर्ज हुई हैं।

सेतु ने कहा कि लोकतंत्र की मजबूती वाले इस कानून को नीतीश सरकार सख्ती से लागू कर रही है। प्रत्येक 15 दिनों पर हर जिलाधिकारी अपने जिले में इसकी समीक्षा करते हैं। अबतक के डेढ़ साल में लोक शिकायतों के निष्पादन में रुचि नहीं लेने अथवा सुनवाई में उपस्थित नहीं होने वाले राज्य के 118 पदाधिकारियों पर कुल तीन लाख 81 हजार रुपये का अर्थ दंड लगाया गया है। इसके अलावा 6 सीओ (अंचलाधिकारी) समेत 11 पदाधिकारियों पर अनुशासनिक कार्रवाई का भी आदेश दिया गया है। किसी भी स्तर पर कोताही बर्दाश्त नहीं कि जाती है। लोकनायक जयप्रकाश नारायण ने सत्ता में जनता की भागीदारी और जनता के सर्वोपरि होने का सपना देखा था। उनके अनुयायी मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने लोक शिकायत निवारण अधिकार कानून लागू करके जेपी के सपनों को पूरा करने की दिशा में मजबूत कदम बढ़ाया है।