कहां खेली गई खून की होली ?

961
0
SHARE

सारण समाचार – (Saran News) बिहार में जिस कदर अपराध बढ़ रही है मानों लगता है कि अब सूबे की सरकार ने अपराध को ही सुशासन मान लिया है। मतलब सुशासन और कुशासन में कोई फर्क ही नहीं नजर आता।

Read More Saran News in Hindi

जिले के नक्सल प्रभावित इलाके में अज्ञात अपराधियों ने एक बार फिर खून की होली खेली है। ऑटो से आये लगभग आधा दर्जन अज्ञात अपराधियों ने भीड़-भाड़ वाले इलाके को देखकर दरियापुर बाजार स्थित खाद व्यवसाई पर अंधाधुंध फायरिंग कर मौत के घाट उतार दिया। इस घटना में मृतक के साले की भी मौत हो गई है, जो उस समय दुकान पर बैठ-कर बातचीत कर रहे थे। हत्या के बाद बाजार की सभी दुकानें बन्द हो गई और जबतक लोग एक दूसरे को कुछ समझ पाते तब-तक अपराधी घटना को अंजाम दे कर आराम से चलते बने। गोली लगने के बाद अफरा-तफरी का माहौल हो गया। सभी दुकानें बन्द हो गई और हत्या से आक्रोशित लोगों ने सड़क जाम कर पुलिस के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे भी लगाये।

घटना का कारण पुरानी जमीनी विवाद बताया जा रहा है, हालांकि पुलिस इस मामले के जांच में जुट गई है और अपराधियों की गिरफ़्तारी के लिए संभावित ठिकाने पर लगातार छापेमारी कर रही है। घटना के संबंध में परिजनों ने बताया की दरियापुर थाना क्षेत्र के मुख्य बाजार स्थित खाद व बीज के व्यवसायी सलाउद्दीन अंसारी का विवाद अपने पड़ोसी जमाल अहमद से कई वर्षो से चल रहा था । उसी के द्वारा इस घटना का अंजाम दिया गया है। पुलिस का कहना है कि दोहरे हत्या के मामले में जमाल अहमद व इनके पांच पुत्र सहित सात लोगों पर हत्या का मामला दर्ज किया गया है। दोनों मृतक के शरीर पर तीन-तीन गोली लगी है । इसी वजह से उनकी घटना स्थल पर ही मौत होने की संभावना जतायी जा रही है। ऐसे पुलिस पूरे मामले की अनुसंधान में जुट गई है।