पुलिस की पिटाई से मौत !!

905
0
SHARE

आरा समाचार : पुलिस कस्टडी में छेना तत्वा की मौत ने पूरे सूबे को हिला दिया है। पुलिस कस्टडी में मौत का आरोप परिजनों ने  जैसे ही लगाया, स्थानीय लोगों में आक्रोश का आग लग गया। उस आग ने न सिर्फ थाना को आग के हवाले किया बल्कि थाना में रखे सभी वाहन, फर्नीचर को भी उसके हवाले कर दिया।

पूरा मामला ये है कि मृतक की बेटी नीतू ने अपने ही पिता पर गंभीर आरोप लगाया था। पुलिस ने त्वरित करवाई करते हुए आरोपी पिता को अपने हिरासत में ले कर पूछताछ के लिए थाने ले आयी। कहा जा रहा है कि थाने में पूछताछ के दौरान ही आरोपी पिता की मौत हो गयी। मौत के बाद पूरे बड़हरा थाना क्षेत्र के स्थानीय लोगों ने न सिर्फ थाने का घेराव किया बल्कि थाने में रखे सभी फर्नीचर, वाहन को आग के हवाले कर दिए। स्थानीय लोगों का गुस्सा इतना ज्यादा बेकाबू था कि थाने में पुलिस को दुबकना पड़ा। जिला बल के साथ जैसे ही एसपी पहुंचे तब तक सबकुछ जल कर ख़ाक में मिट चुका था। घटना के बाद पुलिस अभी तक कैम्प कर रही है।

क्या है पूरा मामला ? भोजपुर के बड़हरा थाना पुलिस की कस्टडी में शनिवार को एक शख्स की मौत हो गयी। इसे ले परिजनों व अन्य लोगों ने आरा सदर अस्पताल में कुछ देर तक हंगामा किया। मृतक बड़हरा गांव निवासी 40 वर्षीय रामसज्जन ततवा उर्फ छेना ततवा है। पुलिस ने उसकी बेटी की शिकायत पर ही उसे शनिवार को हिरासत में लिया था। बाद में उसकी संदेहास्पद स्थिति में मौत हो गयी। उसके सिर पर जख्म के निशान हैं। मृतक की मां हथक ली कुंअर ने पुलिस पर मारपीट कर हत्या कर देने का आरोप लगाया है, जबकि पुलिस का इससे साफ तौर पर इनकार है। पुलिस का कहना है कि जीप से कूदकर भागने में उसकी जान गयी है।
रामसज्जन ततवा की बेटी की शिकायत पर बड़हरा थाना पुलिस ने उसे शनिवार को गिरफ्तार किया। मृतक की मां का आरोप है कि पुलिस ने गिरफ्तार करने के बाद थाने में उसके बेटे के साथ मारपीट की। वह जब थाने पर गयी, तो उसे भगा दिया गया।
वहीं बड़हरा थानाध्यक्ष सुदेह कुमार ने बताया कि उसकी बेटी के आवेदन पर ही रामसज्जन को गिरफ्तार किया गया था। आवेदन में बेटी ने कई तरह के गंभीर आरोप लगाये थे। इसके बाद उसे थाना लाया जा रहा था। उस समय वह शराब के नशे में था। बीच रास्ते में वह जीप से कूदकर भागने लगा। इसी दौरान उसे गंभीर चोट लग गयी। इलाज के लिए उसे तत्काल आरा सदर अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया। वहीं उसकी मौत की खबर के बाद स्थानीय विधायक सरोज यादव सदर अस्पताल पहुंचे। विधायक समर्थकों व अन्य लोगों की भीड़ भी जमा हो गई थी। एसडीपीओ संजय कुमार ने बताया कि जीप से कूदने के कारण मौत हुई है। परिजन पुलिस मारपीट का आरोप लगा रहे हैं, तो इसकी भी जांच की जायेगी।