स्वामी सानंद के मौत पर मंत्री मंगल पांडे ने कहा, यह संतों की सरकार है

355
0
SHARE

मोतिहारी – प्रसिद्ध पर्यावरणविद और संत ज्ञान स्वरुप सानंद (प्रो.जीडी अग्रवाल) का अनशन के दौरान मौत को लेकर जब बिहार सरकार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय से पूछा गया तो उन्होंने गंगा को अविरल और निर्मल बनाने की दिशा में केंद्र सरकार के कार्यो को गिनना शुरू कर दिया. उन्होंने कहा कि पिछले साढ़े चार साल में गंगा को अविरल बनाने में काफी काम हुआ है. जिस कारण गंगा पहले से ज्यादा स्वच्छ और अविरल बनी है. लेकिन जब स्वामी ज्ञान स्वरुप सानंद जी द्वारा गंगा एक्ट बनाने को लेकर अनशन करने की जानकारी देते हुए सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार इसके कानूनी पक्ष को देख रही है और सरकार के मंत्री और अधिकारी इस दिशा में समुचित कदम उठाएंगे.

साथ ही एक संत के साथ सरकार की बेरुखी को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने मात्र एक वाक्य में उत्तर देते हुए कहा कि यह संतो की सरकार है. दरअसल, प्रसिद्ध पर्यावरणविद और संत ज्ञान स्वरुप सानंद ने गंगा स्वच्छता और अविरलता को लेकर गंगा एक्ट बनाने की मांग करते हुए जून में अनशन शुरू किया था. पिछले मंगलवार से उन्होंने जल ग्रहण करना भी छोड़ दिया था. उसके बाद पुलिसवालों ने उन्हें जबरन हॉस्पिटल में भरती करा दिया. जहाँ अनशन के 112 वें दिन उन्होंने प्राण त्याग दिया. स्वामी सानंद जी के मौत पर सोशल मीडिया से लेकर राजनेताओ तक ने शोक व्यक्त करते हुए केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा.