फूलीडूमर अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी पर दबंगई का आरोप, मामले में डॉक्टर राकेश कुमार ने लगाई डीएम से गुहार

403
0
SHARE

Banka: फूलीडूमर अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी संजीव कुमार पर डॉक्टर राकेश कुमार ने दबंगई का आरोप का आरोप लगाया है। राकेश कुमार डीएम को चिट्ठी लिखकर प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी पर कई गंभीर आरोप लगाया गया है। साथ ही डॉक्टर राकेश कुमार ने डीएम से इंसाफ की गुहार लगाया है। प्रथमिक डॉक्टर राकेश कुमार का कहना है कि अस्पताल में प्रभारी डॉक्टर के कारण विधि व्यवस्था में काफी गड़बड़ी है। अस्पताल में गंदगी का अंबार लगा हुआ है। उनका कहना है कि रोगी को अच्छा खाना नहीं दिया जाता है।

डॉक्टर राकेश कुमार ने आवेदन में लिखा है कोविड-19 का जांच आवेदन प्रभारी को देने पर प्रभारी द्वारा आवेदन को फाड़कर कचरे के डब्बे में फेंक दिया। और गाली गलौज करते हुए घसीट कर अस्पताल परिसर से बाहर निकाल दिया गया। स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टर तीन दिनों से लगातार ड्यूटी पर होते हुए भी कोविड-19 का जांच आवेदन देने गया था। जबकि कई बार आवेदन देने व गंभीर बीमार पड़ने पर छुट्टी मांगे जाने पर नहीं दिया जाता है। और प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी खुद अपने ड्यूटी से गायब रहते हैं। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी अक्सर स्टाफ के साथ अभद्रता का प्रयोग और दबंगई दिखाते रहते है। इसकी सूचना स्वास्थ्य मंत्री ,प्रधान सचिव ,कार्यपालक निदेशक स्वास्थ्य विभाग, राज्य स्वास्थ्य समिति बिहार, एवं सिविल सर्जन बांका को देकर डॉक्टर राकेश कुमार इंसाफ की गुहार लगाया है।