राजनीति के कई मौके मिलेंगे, फिलहाल प्रवासी मजदूरों की मदद करें, उनके नाम पर राजनीति नहीं- आर.के सिन्हा

1205
0
SHARE

PATNA: बीजेपी के दिग्गज नेता और पूर्व राज्यसभा सांसद ने बुधवार को कहा कि लाखों की संख्या में प्रवासी मजदूर बिहार लौटें हैं. अभी भी यह सिलसिला जारी है. सबको उनकी चिंता करनी चाहिए. उनके मदद के लिए हर संभव काम करना चाहिए. लेकिन काम करने की बजाय उनके नाम पर बिहार में जो राजनीति शुरू हो गई है, वह उचित नहीं है क्योंकि राजनीति करने का तो आगे भी समय बहुत मिलेगा. अभी तो उनकी हर तरह से मदद करने की जरूरत है.

आर के सिन्हा ने कहा कि उन्हें किस प्रकार वैकल्पिक रोजगार दे सकें, किस प्रकार से उनका पुर्नवास हो सके इसकी चिंता करनी चाहिये. असलियत में प्रवासी मजदूरों की क्या तकलीफें हैं, यह जानना और उसका समाधान करना है. यह राजनीति करने का वक्त नहीं है. जो मजदूरों के नाम पर राजनीति कर रहे हैं, उनसे मैं एक बात पूछना चाहता हूँ. मजदूरों का पलायन तो 1990 में शुरू हुआ. तभी जातीय विद्वेश फैलाये गये. सारे कल-कारखाने बंद करवा दिये गये. चरवाहा विद्यालय खोले गये. तब तो आज जितने लोग प्रवासी मजदूरों के नाम पर राजनीति कर रहे है, वो उस समय सरकार के साथ ही थे. उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए. जातीय विद्वेष फैलाने वाले अब बिहार में कोई शायद कोई ही बचे हैं.

फिर से कृपया करके 1990 के समय के काले इतिहास को दोहराया न जाये. कृपा करके मजदूरों को लेकर राजनीति करना बंद करें. गरीब मजदूर को रोजगार दिलाने में मदद करें. अगर ऐसा नहीं होगा तो जनता देख रही है, उन्हें जनता की अदालत कभी माफ नहीं करेगी.