राजधानी पटना में राजनाथ सिंह ने कहा, बिहार पूरे देश के सांस्कृतिक और मानसिक विकास का परिचायक है

295
0
SHARE

पटना – पटना के अधिवेशन भवन में भारत के मन की बात मोदी के साथ कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में भारत सरकार के गृहमंत्री राजनाथ सिंह, बिहार प्रभारी सह सांसद भूपेंद्र यादव, बिहार सरकार के पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव, कृषि मंत्री प्रेम कुमार उपस्थित हुए। इस अवसर पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने अपनी बात रखते हुए कहा कि आजादी के बाद भी भारत के सब नागरिक का बैंक में एकाउंट नहीं था सबका एकाउंट खोले। 73 प्रतिशत महिलाओं के खाते खुले हैं। बीमार पड़ने पर परिवार कर्ज महाजन से लेने जाते थे अब कोई भी व्यक्ति कहीं हाथ नहीं फैलाएगा। अब उनको 5 हजार का ओवर ड्राफ्ट मिलेगा।

करप्शन पर गृह मंत्री ने कहा कि आप करप्शन को जड़ से उखाड़ फेंकिये, यह संभव नहीं है। क्यों नहीं ऐसी व्यवस्था करे कि करप्शन पर रोक लग जाए। विद्यार्थी अपने प्रमाणपत्र को प्रमाणित करने के लिए दर-दर भटकते थे। अब स्वयं अभिप्रमाणित कर सकते हैं। यह सब करने की कोशिश की है। आज हमारा भारत दुनिया में कमजोर नहीं मजबूत भारत के रूप में जाना जाता है।

उन्होंने कहा कि विपक्ष अनाप शनाप आरोप लगाते हैं राफेल पर मोदी पैसे किसको देंगे। सच बोले झूठ न बोलें, आँख में आँख डाल कर बात करें। किसान को 6 हजार साल में देने की व्यवस्था किया इससे उनको मदद मिलेगी। उनको कहीं जाना नहीं पड़े उसी सोच से यह दिया। क्या 6 हजार में जीवन यापन होगा! यह राशि तो उनको मदद के लिए दिया गया है।

उन्होंने कहा कि देश में कोई बड़ी आतंगवादी हमला नहीं हुआ। पठान कोट में हमला हुआ जिसमें हमने एक एक आतंकवादी को मार गिराया। भारत ने सर्जिकल स्ट्राइक किया तो लोग बोले विश्व समुदाय के लोग प्रतिबंध लगा देंगे, विश्व मे हड़कंप मच जाएगा। अटल बिहारी वाजपेय जी को सलाम करते हैं, उन्होंने परमाणु पोखरण परीक्षण किया।

बिहार से लगाव जताते हुए केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि बिहार से खास जुड़ाव है। बिहार पूरे देश के सांस्कृतिक और मानसिक विकास का परिचायक है। बिहार के चंपारण से शुरू हुआ आंदोलन भारत माता की गुलामी की बेड़ी को काटने वाला हुआ।