दसवीं की छात्रा के साथ बलात्कार, नहीं थम रही है महिलाओं पर से अत्याचार

805
0
SHARE

लखीसराय समाचार / संवाददाता- (Lakhisarai News)

महिलाओं के साथ हो रहे अत्याचार थमने का नाम नहीं ले रहा है। कभी महीला दुष्कर्म की शिकार हो रही हैं तो कभी समाज में दहेज जैसी व्यात कुप्रथा के कारण जिंदा जला दी जा रही हैं।

Read More Lakhisarai News in Hindi

लखीसराय जिले के चानन थाना क्षेत्र में एक ऐसी ही वारदात को अंजाम दिया गया है जिसे सुनकर दुश्मनों की भी आत्मा कांप जायेगी। एक दसवीं की छात्रा के साथ कई मनचलों ने पहले दुष्कर्म किया । फिर साक्ष्य मिटाने के लिए छात्रा को किउल स्टेशन पर ट्रेन से नीचे फेंक दिया गया। मामला चानन थाना क्षेत्र के लाखोचक गांव का है। छात्रा के शरीर पर जख्मों के निशान देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि आरोपियों ने किस कदर इस दिल-दहला देने वाली घटना को अंजाम दिया होगा। बताया जा रहा है कि गुरूवार की देर रात छात्रा शौच करने के लिए घर से बाहर बहियार की ओर निकली। जहां गांव के ही कामेश्वर यादव का पुत्र मृत्युंजय कुमार उर्फ भोथी एवं बनारसी तांती का पुत्र संतोष कुमार उसे जबरदस्ती मुंह पर कपड़ा रखकर उसे बगल के ही खेत में ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। इस दौरान छात्रा बेहोश हो गयी। पीड़ित छात्रा के मुताबिक इस दौरान उसके साथ 3-4 युवक साथ में थे। फिर आरापियों ने उसे वंशीपुर स्टेशन पर मोर्या एक्सप्रेस ट्रेन पर चढ़ाकर किउल स्टेशन पर ट्रेन से नीचें फेंक दिया। फिलहाल छात्रा की गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे सदर अस्पताल से पटना पीएमसीएच रेफर कर दिया गया है। शुक्रवार की सुबह यात्रियों द्वारा पीड़िता को घायलावस्था में देखे जाने के बाद उसे उठाकर प्लेटफार्म पर रख दिया गया। छात्रा बेहोशी की हालत में थी और उसके शरीर से खून तेजी से बह रही थी। परिजन भी खोजबीन करते हुए किउल स्टेशन पहुंचे और छात्रा को लेकर निजी क्लीनिक ले गये। शनिवार की शाम छात्रा को सदर अस्पताल लाया गया। जहां से उसे पटना रेफर कर दिया गया है। इस दौरान पुलिस इस पुरे मामले से बेखबर थी। घटना की सूचना मिलने के बाद एसडीपीओ पंकज कुमार और चानन थानाध्यक्ष सुनील झा आनन-फानन में सदर अस्पताल पहुंचकर मामले की छानबीन की। बताते चले कि आरोपी मृत्युंजय दशहरे के समय अपनी भाभी की हत्या कर उसके शव को पांच दिनों तक अपने घर में रखे हुए था।

Read More Bihar News in Hindi in Hindi

बाद में पुलिस ने शव को बरामद किया था। सदर अस्पताल के चिकित्सकों की माने तो छात्रा के साथ दुष्कर्म किया गया है। स्थिति भी गंभीर बतायी जा रही है। हालांकि इस पूरे मामले पर पुलिस कुछ भी बताने से परहेज कर रही है। पुलिस की इस चुप्पी पर कई सवालिया निशान भी खड़े हो रहे हैं।