ससुराल से प्यार सिखाने वाली किताब !

385
0
SHARE

अमूमन कोई इस विषय पर किताब नहीं लिखेगा लेकिन सविता सिन्हा ने यह कर दिखाया है। आमतौर पर सास-ससुर विषय से लोग बेहद घबराते हैं। भारत ही नहीं अन्य जगहों पर भी सास-बहू, भाभी-ननद तथा इस तरह के अन्य रिश्ते बड़े नाज़ुक समझे जाते हैं। इन रिश्तों को संभाले रखने के लिए बड़ा फूंक-फूंक कर कदम उठाना पड़ता है।

पटना की सविता सिन्हा जो फिलहाल गुरगांव में रहती हैं, अपनी किताब ‘राइजिंग इन लव विथ योर इनलॉस (Rising in Love With Your In-laws)’ में बताती हैं कि कैसे इस रिश्ते को आप थोड़ी कोशिश और अच्छी सोच-समझ से बेहतरीन कर सकते हैं। संवेदना, कृतज्ञता जैसी बातों का जिक्र करती हैं। उदाहरण देकर समझाती भी हैं। रोचक ये है कि संवादात्मक शैली में किताब लिखी गई है और समस्या आए तो उसका सामाधान कैसे हो यह भी बताया है।

आज के युग में जब कई घर कलह का शिकार हो रहे हैं, तलाक हो रहे हैं, हिंसा की लागातार खबरें आ रही हैं, ऐसे में यह किताब हवा के ताज़े झोंके के समान है। कई बार शादी टूटने में ससुराल पक्ष के लोगों को दोष दिया जाता है. एक और रोचक बात ये है कि सविता को ‘Relationship with your In-laws Expert’ माना जाता है। खुद को वे ‘Gratitude Evangelist’ भी बताती हैं। जाति जिंदगी में भी वह अपने परिवार के साथ खूबसूरत रिश्ते के लिए जानी जाती है. इसलिए कह सकते हैं जो भी लिखा है अपने अनुभवों के आधार पर लिखा है। पेशे से वकील होने के नाते रोज़ इस तरह की समस्याओं से सामना होता है इनका। समाज को स्वस्थ बनाने के उद्देश्य से लिखी ये किताब जरूर पढ़ी जानी चाहिए। नोशन प्रेस से यह पुस्तक स्वत: प्रकाशित की गई है और अमेज़न पर पेपर बैक और ई-संस्करण में उपलब्ध है।

किताब अमेजन से इस लिंक पर खरीद सकते हैं: