गोरखपुर के बीआरडी अस्पताल में बच्चों की मौत चिंता का विषय – सदानंद सिंह

110
0
SHARE

पटना बिहार प्रदेश कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता सदानंद सिंह ने कहा कि उप्र के गोरखपुर स्थित बीआरडी अस्पताल में ऑक्सीजन की सप्लाई बंद होने से 36 बच्चों की हुई मौत गंभीर चिंता का विषय है। यह चिंता तब और बढ़ जाती है जब प्रदेश के मुख्यमंत्री का एक दिन पूर्व ही उस अस्पताल का दौरा हुआ था। इससे भाजपा की राज्य सरकार के कार्य-कलाप सवालों के घेरे में आ गया है।

सिंह ने कहा कि रिपोर्टों के अनुसार ऑक्सीजन की कमी से बच्चों की मौतें तड़प-तड़प कर हुई। जो सरासर राज्य के सरकारी मशीनरी के लापरवाही के कारण हुआ। बजाये सहानुभूति जताने के प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री इसे ऑक्सीजन की सप्लाई बंद होने का मामला नहीं मानते हैं, जबकि गोरखपुर के डीएम ने इसे ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत स्वीकार चुके हैं। मृत बच्चों के परिवारों को सांत्वना और सहयोग देने के बजाये वहाँ की सरकार सिर्फ इस घटना पर पर्दा डालने और सफाई देने में ही व्यस्त है। उप्र की तथाकथित तेज तर्रार योगी सरकार को अपने कार्य करने की शैली पर चिंतन और मंथन करना चाहिए।

सिंह ने कहा कि उप्र में बच्चों के जीवन से खिलवाड़ करने वाली इस घटना से मुझे काफी दुःख पहुंचा है। बच्चे इस देश के भविष्य हैं। उप्र में बच्चों के जीवन से नहीं बल्कि देश के भविष्य से खिलवाड़ हुआ है। इसके लिए प्रदेश की भाजपा सरकार पूरी तरह से जिम्मेवार है।