शहीद आशीष कुमार सिंह के घर पसरा मातमी सन्नाटा

311
0
SHARE

मुकेश कुमार सिंह

सहरसा – खगड़िया के पसराहा थानाध्यक्ष शहीद आशीष कुमार सिंह का घर बिहार के सहरसा जिले के सिमरी बख्तियारपुर थाना अंतर्गत सरोजा गाँव मे है जहां अभी मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है। घर और गाँव के हर कोई लोग इस शहीद बेटे पर गौरवान्वित हैं, वहीं कैंसर पीड़ित माँ का रो-रोकर बुरा हाल है। शहीद थानाध्यक्ष के एक पुत्र और एक पुत्री है, पुत्र का उम्र 6 वर्ष और बेटी की उम्र 3 वर्ष है। अक्सर शहीद थानाध्यक्ष अपनी माँ रुक्मिणी देवी के कैंसर इलाज के लिए मुम्बई ले जाया करते थे। शहीद थानाध्यक्ष आशीष कुमार सिंह, सरोजा निवासी गोपाल सिंह के तीन पुत्रों में सबसे छोटे पुत्र थे। घर पर मातमपुर्सी के लिए लोगों का आना जारी है। पूरे गाँव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है, लोग उन्हें याद कर-करके रो पड़ते है।

शहीद आशीष के पिता गोपाल सिंह ने रोते हुए कहा कि मेरा श्रवण बेटा चला गया बहुत वफादार था मेरा बेटा। वहीं उनकी माँ रोते-रोते कहती हैं, सोमवार को ही वो अपने बेटे के पास से आई थी, लगभग तीन महीने से वो अपने बेटे के पास थी। इस दौरान वो कैंसर के इलाज के लिए मुम्बई गयी हुई थी। आशीष तीन भाई थे, सबसे बड़े भाई देहरादून में इंजीनयर हैं, मंझले भाई BSF में तीसरे नंबर में आशीष थे। आशीष के बारे में उन्हें फोन पर सूचना मिली कि उन्हें गोली लग गयी है।