इलाज के नाम पर दलाली करने वाला धंधेबाज गिरफ्तार

647
0
SHARE

मुकेश कुमार सिंह

सहरसा – कोशी का पीएमसीएच कहलाने वाला सदर अस्पताल सहरसा दलालों के गिरफ्त में है। जी हाँ, ये ताजा वाक्या सदर अस्पताल सहरसा का है जहाँ कई निजी अस्पताल खासकर सूर्या क्लिनिक के दलाल सदर अस्पताल में दिन और रात मंडराते रहते हैं और रेफर पेशेंट की तलाश में रहते हैं। एक पेशेंट पर निजी अस्पताल के संचालकों के द्वारा दलाल को चार हजार से लेकर पाँच हजार तक की राशि मुहैया कराती है। वहीं सदर अस्पताल प्रबंधक मूकदर्शक बनी रहती है।

बता दें कि देर रात एक पेशेंट जो सिमरी बख्तियारपुर का रहने वाला था और सदर अस्पताल सहरसा रेफर होकर आया था। उसी रेफर पेशेंट को सदर अस्पताल के डॉक्टरों ने बेहतर इलाज के लिये पीएमसीएच रेफर किया था। उसी वक्त सूर्या अस्पताल के दलाल ने उस पेशेंट के परिजन को बरगला रहा था और कह रहा था चलो सूर्या अस्पताल वहां पेशेंट आपका ठीक हो जाएगा और परिजन कह रहा था जो पटना रेफर किया है डॉक्टर ने तो क्यों लेकर जाएँ पेशेंट को सूर्या अस्पताल। फिर भी दलाल परिजनों को मनाने की कोशिश कर रहा था, जब परिजनों को लगा कि दलाल उसपर दबाव डालने लगा तो सदर अस्पताल में मौजूद लोगों ने सिविल सर्जन को मोबाईल पर सूचना दी।

सूचना मिलते ही सिविल सर्जन शैलेन्द्र कुमार गुप्ता हरकत में आये और अपने अस्पताल प्रबंधक बिनय रंजन को तुरंत अस्पताल पहुंचकर उस दलाल को पकड़ने का आदेश दिया। आदेश मिलने के बाद प्रबंधक बिनय रंजन जब तक अस्पताल पहुंचते तब तक अस्पताल के सुरक्षा गार्ड ने उस दलाल को दबोच कर सदर थाना के पेंथर जवान को सूचना दे दिया। सूचना मिलते ही पेंथर के जवान उस दलाल को गिरफ्तार कर पूछताछ के लिये सदर थाना ले गई। बहरहाल पुलिस दलाल से पूछताछ कर कार्रवाई में जुटी।