सासाराम में विदेशी महिला ने कथक नृत्य से बिखेरा रंग

1013
0
SHARE

सासाराम: बिहार के रोहतास जिले के सासाराम के चेनारी में बसंत उत्सव के मौके पर स्वीट्जरलैंड से आईं मारग्रेट अलवा ने रंग बिखेरा। मारग्रेट ने जब कथक नृत्य करना शुरू किया तो देखने वाले देखते ही रह गई। लोग इस बात से उत्साहित थे कि विदेशी महिला ने कितनी बारीकी से भारत की इस नृत्य शैली को सीखा है।

Read More Rohtas News in Hindi

मां सरस्वती की भाव पूर्ण पूजा अर्चना के बाद शुरू हुए कथक नृत्य में मारग्रेट के परफॉर्मेंस से पूरी महफिल वाह-वाह कर उठी। उठान उपज लरी आमद के तीन ताल पर किए गए कथक नृत्य के हर ब्रेक पर तालियां गड़गड़ा उठती थीं। इसमें मारग्रेट का साथ वाराणसी के सौरभ मिश्र और गौरव मिश्र बखूबी निभा रहे थे।

पंडित रवि शंकर के शिष्या मारग्रेट के साथ आए मशहूर तबलावादक रामकुमार मिश्र, श्रीकांत मिश्र, राजेश मिश्र के साथ सागर मिश्र की राग गुजारी तोड़ी में की गई गायन का कोई जवाब नहीं था।