शहर में अतिक्रमण के खिलाफ सब्जी और ठेला व्यवसायियों ने निकाला आक्रोश मार्च

391
0
SHARE

KAIMUR: मोहनिया शहर में अतिक्रमण के खिलाफ आज सब्जी और ठेला व्यवसायियों ने शहर में माथे पर काली पट्टी बांधकर आक्रोश मार्च निकाला। पिछले 4 दिन पहले मोहनिया अनुमंडल प्रशासन के द्वारा चांदनी चौक के जाम को देखते हुए अतिक्रमणकारियों पर कार्रवाई की गई है। जिससे नाराज सब्जी और फल व्यवसाई आज शहर में आक्रोश मार्च निकाले आक्रोश मार्च में डीसीएलआर मुर्दाबाद और नगर पंचायत  मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए शहर के चारों तरफ महिला सहित नौजवान और पुरुष आक्रोश मार्च किए।

एक महिला सब्जी व्यवसाई  तेतरा कुंवर ने बताया कि हम लोग अपनी रोजी-रोटी मांग रहे हैं और हमारी रोजी रोटी सब्जी मंडी इसमें प्रशासन हम लोगों को मारपीट कर के भगा देता है हम लोग कहां जाएं गरीब आदमी हैं क्या खाएं

मोहनिया शहर का वार्ड नंबर 11 का दिलशाद फारुकी बताता है कि हम लोग फल व्यवसाई हैं। हम लोगों को कहीं भी जगह दे सरकार पीडब्ल्यूडी के पास भेजा गया। हम लोग का फल नहीं बिक रहा है। 4 दिन में  हमारे ऊपर ₹18300 का कर्ज हो गया है। हमारे घर चार मां बहन बेटी हैं। सब के पढ़ाई से लेकर भोजन का इंतजाम करना है। बताइए हम लोग क्या करें डीसीएलआर और नगर कार्यपालक अधिकारी हम लोगों के साथ दुर्व्यवहार कर रहे हैं। इसलिए हम काली पट्टी बांध कर  आक्रोश मार्च  निकालकर बिरोध जता रहे है।

वहीं जुलूस का प्रतिनिधित्व कर रहे हातिम जो फल के व्यवसाई हैं बता रहे हैं कि हम लोगों का 4 दिन में कई लाखों रुपए का फल और सब्जी नुकसान हुआ जो फल सड़ रहा है प्रत्येक रोज हम लोग 5 से ₹7 लाख का इस शहर में फल भेजते हैं लेकिन इस समय 4 दिन से हम लोगों को परेशान किया जा रहा है हमारे साथ 374 ठेला वाले हैं जिसमें 80 लोगों को जगह दिया गया है बाकी लोग तो कोई जगह ही नहीं है कि हम लोग कहां जाएं कैसे बेचे इसलिए हम लोग विरोध कर रहे हैं