जब महिलाओं की चीख-पुकार से भी नहीं पसीजा डीएम का दिल

485
0
SHARE

सीतामढ़ी- जिले के डीएम की दादागिरी का एक वीडियो वायरल हुआ है। साम्प्रदायिक सौहार्द बहाल करने के बहाने घर के अंदर से जबरन बाहर निकाल कर खुलेआम की जा रही है एक शख्स की बेरहमी से पिटाई। घर की महिला सदस्यों द्वारा दया की भीख मांगने के बावजूद नहीं थम रहा पुलिस का डंडा। यह घटना 2 अक्टूबर को मुहर्रम के दिन का है। शहर के कोर्ट बाजार मुहल्ले की घटना है ये। इस वीडियो में डीएम राजीव रौशन भी डंडा थामे नज़र आ रहे हैं।

सीतामढ़ी जिले में तेजी से फैलती अफवाहों के बाद 2 अक्टूबर को नगर के जानकी मंदिर के निकट दो गुटों के बीच झड़प हो गई थी, इस दौरान रोड़ेबाजी भी की गई जिसके बाद मौके पर पहुंचे डीएम और एसपी ने चुन-चुन कर उपद्रवियों पर लाठी चलायी, साथ ही माइक पर घोषणा की गई कि अफवाहों पर ध्यान ना दे और अपने-अपने घरों में रहे, इसके बाद जानकी मंदिर थाना परिसर में दोनों समुदायों के गणमान्य लोगों के साथ डीएम-एसपी और जनप्रतिनिधियों ने बैठक कर समझाने का प्रयास किया, हालांकि बैठक में भी लोगों को बार-बार उग्र होता देख एक बार एसपी हरि प्रसाथ एस ने भी अपना आपा खो दिया और उग्र लोगों को सिंघम स्टाइल में चेतावनी दे डाली, इसके बाद डीएम राजीव रौशन ने अपने संबोधन में लोगो को शाषण-प्रशासन की शक्ति का एहसास दिलाया।