दहशत में सीवान कोर्ट के जज

288
0
SHARE

सीवान: बहुचर्चित सीवान तेजाब कांड में पूर्व राजद सांसद शहाबुद्दीन को उम्रकैद की सजा सुनाने वाले जज अजय कुमार श्रीवास्तव का ट्रांसफर सीवान से पटना हो गया है। शहाबुद्दीन को जमानत मिलने के बाद ही जज अजय कुमार ने अपने ट्रांसफर करने की गुहार लगाई थी।

वैसे तो शहाबुद्दीन की रिहाई के बाद सीवान में जन जीवन तो समान्य है। लेकिन, तीन दिनों में दो लोगों की हत्या के बाद शहरवासी भयभीत हैं। शहर के हर चौक चौराहे पर भी इन हत्याओं की चर्चा हो रही है। इनका आरोप भी शहाबुद्दीन के करीबी पर लगा है। सूत्रों का कहना है कि तेजाब कांड में शहाबुद्दीन को उम्र कैद की सजा सुनाने वाले जज ने भी अपना ट्रांसफर मांगा लिया है।

शहाबुद्दीन को तेजाब कांड में उम्रकैद की सजा सुनाने वाले जज अजय कुमार श्रीवास्तव का पटना हाईकोर्ट ने पटना ट्रांसफर कर दिया है। अजय कुमार श्रीवास्तव ने शहाबुद्दीन के रिहा होने के बाद ही पटना हाईकोर्ट से अपना सीवान से दूसरे शहर में ट्रांसफर करने की गुहार लगायी थी।

सूत्रों का कहना है कि कई और अफसरों ने भी सीवान से दूसरे शहरों में अपना ट्रांसफर करने की गुहार सरकार से लगा चुके हैं।

सीवान में पिछले तीन दिन में दो लोगों की हत्या और 16 लाख की लूट के बाद एक बार फिर भय और आतंक पसर गया है। फिलहाल पुलिस इन मामलों की जांच कर रही है, लेकिन सूत्रों का कहना है जिन लोगों की हत्या हुई है अपराध से इनका भी पुराना रिश्ता रहा है।

शहाबुद्दीन जेल से रिहा होने के बाद हर दिन जनता दरबार लग रहा है। इसमें आम से लेकर खास तक अपनी फरियाद लेकर आ रहे हैं। और वे इनकी फरियाद भी सुन रहे हैं और उसपर तत्काल कार्रवाई का भरोसा भी दे रहे हैं। लेकिन, सोमवार को सीवान के प्रतापपुर का नजारा कुछ बदला हुआ था।

मंगलवार को भी मो. शहीबुद्दीन ने राजद कार्यालय में बैठक की। इस बैठक में कार्यकर्ताओं की काफी भीड़ देखी गई थी। यह माना जा रहा है कि सुप्रीम कोर्ट से जमानत रद्द हो जाता है तो शहाबुद्दीन की यह आखिरी बैठक होगी।

भाजपा ने कहा कि शहाबुद्दीन के खिलाफ गवाही देने वाले गवाहों का क्या हाल होगा आप समझ सकते हैं। जदयू नेता अजय आलोक ने भी माना है कि सीवान में दहशत का माहौल है और इस बात पुष्टि सीवान के डीएम और एसपी ने कर दी है।

आलोक ने कहा कि इन्हीं बातों को देखते हुए सरकार शाहबुद्दीन के जमानत के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट भी गयी है और सीवान में रह रहे किसी भी शख्स को डरने की जरूरत नहीं है।