डीएमसीएच में कोरोना मरीज के मौत के बाद परिजन ने लगाया अस्पताल प्रशासन पर आरोप

195
0
SHARE

Darbhanga: कोरोना को लेकर राज्य सरकार सूबे में मरीजों की बेहतर चिकित्सा व्यवस्था का लाख दावा कर ले ।लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही बयां करती हैं ।दरभंगा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के कोरोना वार्ड के रूम नं-15 में ऑक्सीजन के अभाव में एक मरीज ने दम तोड़ दिया । इसके बावजूद अस्पताल का कोई कर्मी उसे देखने तक नहीं आया ।वहीं, इस घटना ने डीएमसीएच प्रशासन की बदतर चिकित्सा व्यवस्था की पोल खोलकर रख दी है ।

मधुबनी जिले के मधेपुर गांव के रहने वाले ओम प्रकाश गुप्ता कोरोना वायरस से संक्रमित होकर डीएमसीएच के कोरोना वार्ड में भर्ती थे ।मृतक के बेटे दीपक कुमार ने अस्पताल प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने अपने पिता को सोमवार की रात करीब आठ बजे इलाज के लिए भर्ती कराया ।उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी ।जिसको लेकर उन्हें छोटे सिलेंडर के जरिये ऑक्सीजन लगाया गया ।इसके बाद वहां से सभी कर्मी बाहर निकल गये और यह भी नहीं देखा कि मरीज तक ऑक्सीजन पहुंच रहा है कि नहीं मिल रहा है ।

मृतक के बेटे दीपक कुमार ने कहा कि ऑक्सीजन लगाने के बावजूद मरीज की स्थिति में कोई सुधार नहीं हुआ । बल्कि उसकी स्थिति धीरे- धीरे और बिगड़ने लगी ।लेकिन पूरी रात कोई झांकने तक नहीं आया और मरीजों को उसके हाल पर छोड़ दिया गया । जिसके बाद उनकी मौत हो गई।