बीएसएससी पेपर लीक मामले में सुधीर कुमार ही हैं किंगपिन- मनु महाराज  

658
0
SHARE

पटना समाचार – (Patna News) बिहार के बहुचर्चित बीएसएससी पेपर लीक मामले में आखिरकार बीएसएससी अध्यक्ष सुधीर कुमार की गिरफ्तारी हो ही गई। एसआईटी आयोग के अध्यक्ष सुधीर कुमार को ही किंगपिन मान रही है। एसआईटी के अनुसार सुधीर कुमार जब उनके सवालों का ठीक से जवाब नहीं दे पाए तो उनके खिलाफ उनका शक बढ़ गया।

Read More Patna News in Hindi

एसआईटी अध्यक्ष एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि जब हमने जांच की तो पता चला कि दिल्ली के एक प्रिंटिंग प्रेस से सुधीर कुमार के संबंध थे। इसके अलावा छपाई आदि को लेकर गुजरात के प्रेस से भी उनके संबंध थे। जब जांच हुई तो उनकी भूमिका संदिग्ध निकली। जांच जैसे-जैसे आगे बढता गया सुधीर कुमार के खिलाफ सबूत मिलता गया। अंत में पता चला कि उनके इशारे पर ही पेपर लीक हुआ था।

एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि एसआईटी ने ठोस सबूत के आधार पर सुधीर कुमार को गिरफ्तार किया है। साथ में एसएसपी ने बताया कि परमेश्वर राम की गिरफ्तारी के बाद हमें आंसर को वायरल करने वाले गिरोह की तलाश थी। जांच के दौरान पता चला कि सुधीर के भांजे आशीष की रैंडम क्लासेस के मालिक रामेश्वर के साथ अच्छी बातचीत थी, जिसके आधार पर पूरी पड़ताल की गयी। एसएसपी ने यह भी खुलासा किया कि परीक्षा में सुधीर कुमार के चार रिश्तेदार भी शामिल होने वाले थे।

इसी आधार पर जब हमने जांच आगे बढ़ाई तो पता चला कि उनकी और उनके परिवार के सदस्यों की इस लीक कांड में संदिग्ध भूमिका है। हमारी जांच अभी भी जारी है। इससे जुड़े कुछ और लोग गिरफ्तार हो सकते हैं।

उन्होने बताया कि इस मामले में गुजरात से आरेस्ट किये गए प्रिंटिंग प्रेस के मालिक और आईएएस सुधीर कुमार के रिश्तेदारों के बीच हमेशा बात होती थी। सुधीर कुमार के भांजे आशीष ने ही इस परीक्षा का पेपर लीक कराया था। आशीष के अलावा हरिओम और नितिन को भी गिरफ्तार किया गया है। नितिन भी उनका भांजा है और हरिओम दूर का रिश्तेदार है।

बता दें कि इस मामले में एसआईटी ने सुधीर कुमार को शुक्रवार को हजारीबाग से गिरफ्तार किया है। इस मामले में 23 लोगों की पहले ही गिरफ्तारी हो चुकी है। इससे पहले एसआईटी ने उन्हें जांच से संबंधित प्रश्नों की लिस्ट भेजी थी जिसका वो संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए थे। इससे उन पर शिकंजा कसता जा रहा था। वहीं इस मामले में राज्य भर के आईएएस लॉबी ने गिरफ्तारी पर रोष जताया है। आईएएस एसोसिएशन ने कहा है कि सुधीर कुमार एक ईमानदार ऑफिसर हैं। हम उनके हक की लड़ाई लड़ रहे हैं। बीते गुरूवार को गुजरात गई एसआईटी ने जिस प्रिंटिंग प्रेस में प्रश्न पत्र छपा था, उसके मालिक को गिरफ्तार किया है। इस मामले में आयोग के सचिव परमेश्वर राम की भी गिरफ्तार हो चुकी है ।