सुशांत सिंह केस: मुंबई से पटना पहुंचे आईपीएस विनय तिवारी, BMC ने किया था क्वारन्टीन

379
1
SHARE

Patna: मुंबई में जबरन क्वारेंटाइन किये गए आईपीएस अधिकारी व सिटी एसपी सेंट्रल विनय तिवारी शुक्रवार की देर रात पटना पहुंच गए. आज सुबह में ही बीएमसी ने उन्हें क्वारेंटाइन के 14 दिन पूरा होने से पहले ही मुक्त कर दिया था. आईपीएस विनय तिवारी को रिसीव करने के लिए देर रात को खुद डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय पहुंचे थे. मुंबई में बिहार पुलिस की टीम ने जो जांच और कार्रवाई की, उससे डीजीपी काफी खुश हैं.

डीजीपी को एयरपोर्ट पर देख आईपीएस विनय तिवारी ने खुशी जाहिर की. साफ कहा कि वो हमारे अभिभावक हैं. इसीलिए वो लेने आये हैं. पटना एयरपोर्ट पर उतरने के बाद आईपीएस विनय तिवारी ने कहा कि बीएमसी ने मुझे नहीं, बल्कि सिस्टम को क्वारेंटाइन किया था.

विनय तिवारी ने कहा कि बीएमसी की हरकतों से उनकी जांच प्रभावित हुई. अगर बीएमसी उन्हें क्वारेंटाइन नहीं करती तो उन 4-5 दिनों में एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के मामले में जांच काफी आगे बढ़ती. कई लोगों से पूछताछ होती. कुछ और नए सबूत जुटाए जाते. लेकिन मुंबई पुलिस और बीएमसी ने बिहार पुलिस की टीम के रास्ते में काफी रोड़ें अटकाए. जिसे सबने देखा है.

IPS विनय तिवारी ने कहा सोचने की जरूरत नहीं है, कुछ चीजे बिना बोले स्पष्ट हो जाती है। उनहोंने कहा कि हमारी टीम 27 तारीक से इन्वेस्टिगेशन कर रही थी। हमलोग इन्वेस्टिगेशन कर रहे थे। हमारे पहुंचने से बाद एक दिन पहले 2 तारिख इन्वेस्टिगेशन को कर रहे थे। 2 तारिख के बाद इन्वेस्टिगेशन की रफतार रूक गयी थी। उन्होंने कहा कि एयरपोर्ट पहुंचे से पहले हमारे सिनीयर ऑफिसर्स ने सूचना दे दी थी। लेकिन जब वहां पहुंचे तो एयरपोर्ट पर किसी ने संपर्क नहीं किया। सबको पता था कि मैं एसआईटी को लीड कर रहा हूं। गेस्ट हाउस पहुंचा और जब मैं रात करीब 10 बजे इन्वेस्टिगेशन के निकला तो BMC के लोगों का कॉल आया और कहा की कुछ प्रक्रिया है मुझसे मिलना चाहते हैं। जिसके बाद मुझे क्वारंटीन कर दिया गया। उन्होंने कहा उनलोगों के नियम का मैनें पालन किया। ये बात सही है कि मेरे चारों और मेरे टीम के अन्य सदस्यों को क्वारंटीन नहीं किया गया था। तो अब इसमें कुछ कहने की जरूरत नहीं है। ये अपने आप समक्ष में आ जाना चाहिए की उनका कैसा व्यवहार था।

जैसे ही आईपीएस विनय तिवारी मुंबई पहुंचे, उन्हें क्वारनटीन कर लिया गया. इसको लेकर बिहार पुलिस और मुंबई पुलिस में ठन गई. हालांकि, बाद में मुंबई पुलिस ने अपने रोल से इनकार कर दिया. इसके बाद बिहार पुलिस ने बीएमसी को चिट्ठी लिखकर आईपीएस विनय तिवारी को तुरंत छोड़ने की अपील की थी.

उल्‍लेखनीय है कि सुशांत सिंह राजपूत  की मौत के मामले में सीबीआइ ने रिया चक्रवर्ती समेत छह आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। सीबीआइ ने रिया चक्रवर्ती, उनके पिता इंद्रजीत चक्रवर्ती, मां संध्या चक्रवर्ती, भाई शोविक चक्रवर्ती, सैमुअल मिरांडा, श्रुति मोदी एवं अन्‍य को आरोपी बनाया है।