तेजस्वी यादव का सुशील मोदी पर करारा हमला

372
0
SHARE
PATNA, INDIA - NOVEMBER 8: Tejashwi Yadav, son of RJD Chief Lalu Prasad Yadav after the results of the Bihar Assembly elections, on November 8, 2015 in Patna, India. Nitish Kumar said, "I express my gratitude towards people of Bihar, will try our best to match up with their expectations. We respect our opposition in Bihar; want to work in consensus with everyone to develop Bihar. This victory is big win and we will work towards the grand alliances mandate for the development of Bihar." Lalu Yadav said, "BJP had its eyes on Kolkata, the capital of West Bengal. It wanted to move eastwards. Bihar stopped them in tracks. PM Narendra Modi is nothing but an RSS pracharak." The grand alliances victory is also attributed to the rejection of communal politics, driven mostly by the recent debate over cow slaughter and consumption of beef. Data from the election commission?s website for 240 of the state?s 243 seats showed the RJD-JD(U)-Congress alliance led in 178 seats, an emphatic victory over the NDA that could only win around 59 seats. (Photo by Arun Sharma/Hindustan Times via Getty Images)

आरा: बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि अगर मेरे पास काला धन है तो सुशील मोदी आ के मुझे पकड़ ले। तेजस्वी ने एक सवाल के जवाब में कहा। जब उनसे पूछा गया कि सुशील मोदी के अनुसार जो नोटबंदी का विरोध कर रहे हैं उनके पास काल धन है।

उन्होंने कहा कि काले धन के खिलाफ हम भी हैं लेकिन जिससे लोगों को फ़जीहत झेलना पड़े, उसका हम विरोध करते हैं। इस तरह से भ्रस्टाचार खत्म होता है क्या? अभी अराजकता की स्थिति हो गयी है। गरीबों की परेशानी को केंद्र सरकार नहीं देख रही है। ठीक है वो आएं और छापा मार कर ले जाएं काला धन।

उन्होंने कहा कि उद्योगपतियों को खड़ा करें लाइन में, बड़े-बड़े ब्यापारियों को खड़ा करें लाइन में, आम आदमी को क्यों तकलीफ दे रहे हैं? अफसर को खड़ा किया जाए लाइन में। आम जनता, किसान और गरीबों को क्यों खड़ा किया जा रहा है एटीएम में? उस 7000 करोड़ के काले धन का क्या हुआ जो विजय माल्या ने सफेद बनाया और विदेश चले गए। एसबीआई ने विजय माल्या का लोन माफ कर दिया।

ललित मोदी और अदानी के भतीजे के काले धन का क्या हुआ? काले धन के नाम पर जो देशभक्ति दिखाई जा रही है वो गलत है। कहा जा रहा की आतंकी संगठनों के पैसे पर लगाम लग जाएगा, नक्सलियों पर लगाम लग जाएगा।

तेजस्वी ने सवाल उठाया कि अभी जो आतंकी मारे गए उनके पास से 2000 के नए नोट थे। ये कहां से आए? वो जो बोल रहे हैं वह ही सत्य है बाकि सारे झूठे हैं। किसानों, मजदूरों, बेवस और गरीबों को हमसब को जो दिक्कत हो रही है उसे कोई नहीं देख रहा है। इतना बड़ा फैसला ले लिया गया और प्रतिदिन एसबीआई को नए नए गाइड लाइन दिए जा रहे हैं ये कहां तक सही है?

उन्होंने कहा कि हम एक छोटा फैसला लेते हैं तो बैकअप प्लान बनाया जाता है। यहां तो कुछ नहीं किया गया। पीएम मोदी को बस अदानी को फायदा पहुंचना है। यूपी का चुनाव दिख रहा है। इस नोटबंदी में जिसकी शादी नहीं हुई, तो नही हुई लेकिन भाजपा के लोगों का तो 500 करोड़ का शादी हुआ है।

तेजस्वी यादव ने कहा कि लालू यादव चोर हैं, ममता बनर्जी, मायावती, शारद पवार, राहुल गांधी, सपा सब चोर हैं तो आके पकड़ क्यों नही लेते। कोई भाग थोड़े ही रह है। जिस अदानी के पैसे से वो हवाई यात्रा का ऐश किए हैं। अदानी और अंबानी जैसे पूंजीपतियों ने प्रधानमंत्री के चुनाव के समय प्रचार पसार में जो खर्च किया था आज उसे इस नोटबंदी के माध्यम से केंद्र लौटाने का काम कर रहा है।