इधर पत्नी पीएम की सुरक्षा में लगी रही, उधर शिक्षक पति की हुई हत्या

784
1
SHARE

लखीसराय- जिले के मेदनी चौकी थाना क्षेत्र के मिल्की ढाला पर अज्ञात अपराधियों ने एक प्राइमरी स्कूल के शिक्षक प्रवीण महतो की गोली मारकर हत्या कर दी। मौके पर शिक्षक की मौत हो गई। घटनास्थल पर अभयपुर थाना प्रभारी एवं मेदनी चौकी थाना प्रभारी पहुंचकर मामले की जांच में जुटे।

प्राप्त जानकारी के अनुसार शुक्रवार की देर शाम अभयपुर गांव से घर वापस लौट रहे शिक्षक मेदनी चौकी निवासी शंकर महतो के 30 वर्षीय पुत्र प्रवीण कुमार को मेदनी चौकी पीरी बाजार पथ, पीरी बाजार थाना क्षेत्र की लाठीया बहियार के समीप अपराधियों ने चाकू से हमला कर जख्मी किया। उसके बाद गोली मारकर उसकी हत्या कर दी तथा शव को बगल के जंगल में फेंक दिया। घटना की सूचना मिलते ही पीरी बाजार थानाध्यक्ष रविकांत कुमार एवं मेदनी चौकी थानाध्यक्ष रंजीत कुमार घटना स्थल पर पहुंचे और शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए लखीसराय सदर अस्पताल भेज दिया।

इधर मृतक के चाचा कपिल देव ने बताया कि प्रवीण कुमार शुक्रवार को घर से 4:00 बजे शाम किसी के फोन आने पर पानी फिल्टर केंट आरो देने के काम से निकले थे। वहीं देर शाम वापस नहीं लौटने पर इसकी सूचना मेदनी चौकी थाना प्रभारी रंजीत कुमार को दी गई तथा पूरी रात खोज किया गया। वहीं सुबह जानकारी मिली कि शिक्षक प्रवीण कुमार की हत्या कर शव को झाड़ी में फेंक दिया गया है। हालांकि इस संबंध में महेशपुर गांव निवासी ब्रह्मदेव महतो की पत्नी व मृतक की फुआ दयावंती देवी ने बताया कि मेरा भतीजा एक आदमी के साथ घर आया तथा पानी पीकर वापस लौट गया। बता दें कि मृतक प्रवीण कुमार की हत्या से पूर्व उनके शरीर पर चाकू से वार किया गया, उसके बाद गोली मारा गया। इधर मेदनी चौकी थानाध्यक्ष रंजीत कुमार ने घटनास्थल पर सेट थ्री फिफ्टिन का एक खोखा बरामद करने की पुष्टि की है ।

14 Oct LKR Photo 3

मृतक की पत्नी इंदू भारती के बयान पर पीरी बाज़ार थाना में अज्ञात के विरुद्ध मामला दर्ज करवाया गया। पुलिस मामले की छानबीन में जुट गयी है। बताते चलें कि मृतक प्रवीण कुमार उत्क्रमित मध्य विद्यालय, खावा में शिक्षक पद पर कार्यरत थे। वहीं विद्यालय में कार्य निपटाने के बाद खाली समय में पानी फिल्टर का काम करते थे तथा आरो केंट कंपनी की एजेंसी लिए हुए थे।

ऑर्डर मिलने पर फिल्टर मशीन लगवाने के लिए वह कस्टमर के घर जाते थे। शुक्रवार को भी घर आने पर किसी का आर्डर फोन पर आया तो वह अभयपुर काम करने गया था एवं समय पर वापस नहीं लौटने पर परिवार वालों द्वारा खोजबीन किया गया एवं मेदनी चौकी थानां को सूचना दिया गया। वहीं मृतक प्रवीण कुमार अपने परिवार में भाई में अकेला था। मृतक के पिता शंकर महतो स्वास्थ्य विभाग से सेवानिवृत्त होकर घर पर ही रहते थे।

वे शुक्रवार को किसी खास काम से बाहर गए हुए थे। घर पर मृतक की मां सेवानिवृत्त शिक्षिका अपने घर पर थी। मृतक की शादी 3 साल पूर्व इंदु भारती के साथ हिंदू रीति रिवाज के साथ हुआ था। शादी के बाद इंदु भारती की ट्रैफिक पुलिस में नौकरी हुई थी और वर्तमान में औरंगाबाद क्षेत्र के ओबरा थाना में कार्यरत थी तथा शुक्रवार को मोकामा में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम में तैनाती किया गया था। घटना की सूचना मिलते ही वह अपने घर पहुंची, वहीं माता और पत्नी का रो-रो कर बुरा हाल हो गया है। पत्नी को होश आते ही, लगातार अपने पति के खो जाने की याद के साथ वह बार-बार बेहोश हो रही है।