छात्र का क्या कसूर, छुट्टी की अर्जी किसे दे इस पर मचा बवाल , मामला सीबीएसई बोर्ड तक पहुंचा

197
0
SHARE

छुट्टी की अर्जी के बाद जब छात्र स्कूल पहुँचा तो स्कूल के शिक्षक ने छात्र की माता के साथ किया दुर्व्यवहार। स्कूल परिसर में छात्रों और कई अभिभावकों के बीच शिक्षक ने सुनाई खरी-खोटी। छुट्टी की अर्जी सिर्फ प्रिंसिपल को ही क्यों, हमे क्यों नही दी गई जानकारी, इस बात पर लाल हुए शिक्षक।

महिला अभिभावक ने एसएसपी, डीएम, सीबीएसई बोर्ड व शिक्षामंत्री से की शिकायत

WhatsApp Image 2017-09-13 at 10.03.39

WhatsApp Image 2017-09-13 at 10.03.42गया

सीढियां घाट मोहल्ले की निवासी कविता जैन का पुत्र निकुंज जैन क्रेन मेमोरियल स्कूल में 10वीं क्लास का छात्र है। पिछले 1 अगस्त से 10 सितंबर तक वह स्कूल नहीं गया था क्योंकि उसका पैर टूट गया था। इसके बाद अभिभावक कविता जैन ने स्कूल के प्रिंसिपल को छुट्टी का आवेदन भी दिया था।

निकुंज कुछ चलने लगा तो वह 11 सितंबर से स्कूल जाने लगा। क्योंकि कुछ दिन बाद उसकी परीक्षा है। कल जब उसके पिता ज्ञानचंद जैन ने अपने बेटे को स्कूल छोड़ा और वापस छुट्टी में उसकी माँ कविता जैन लाने पहुँची तो स्कूल के शिक्षक दयानंद ने स्कूल परिसर में ही सबके सामने जमकर खरी-खोटी सुनाई। दयानंद इस बात पर गुस्सा थे कि उन्हें इस बात की जानकारी अभिभावकों द्वारा क्यों नहीं दी गई।

कविता जैन ने कहा कि यह बात उन्हें अच्छी तरह और शांती से भी समझाया जा सकता था, छुट्टी लेनी होती है तो प्रिंसिपल को ही आवेदन देते हैं न कि स्कूल के सभी शिक्षकों को इसकी जानकारी देनी पड़ती है। लेकिन शिक्षक दयानंद के द्वारा स्कूल परिसर में ही जहां दर्जनों अभिभावक और छात्र थे, सभी के सामने महिला को उंगली दिखाकर खरी-खोटी सुनाई गयी। सभी की इज्जत होती है। घटना के बाद कविता जैन ने एसएसपी कार्यालय, डीएम कार्यालय में लिखित आवेदन व सीबीएससी बोर्ड और शिक्षा मंत्री को ईमेल भेज कर इसकी शिकायत की है। ज्ञात हो कि क्रेन मेमोरियल स्कूल गया जिले के नामीगिरामी स्कूलों की सूची में है।