अनलॉक 1.0 के पहले दिन ही नियमों की उड़ी धज्जियां, बड़ी संख्या बसों में सफर करते दिखे प्रवासी

252
0
SHARE

GAYA: लंबे समय तक लागू लॉकडाउन के बाद आज अनलॉक 1.0 का पहला दिन. अनलॉक 1.0 में कई सुविधाएं दी गई हैं. वहीं पब्लिक ट्रांसपोर्ट सुविधा की बहाल कर दिया गया है. पब्लिक वाहनों के परिचालन के लिए कई नियम बनाए गए हैं, लेकिन अनलॉक 1.0 के पहले ही दिन नियमों की धज्जियां उड़ती हुई नजर आई.

गया जंक्शन पर निजी बस चालक कई राज्यों से आए प्रवासी मजदूरों को बसों पर भेड़-बकरियों की तरह लाद कर ले जाते दिखे. दरअसल, बस के लगते ही सभी प्रवासी मजदूर बस की ओर दौड़ पड़े और जिसे जहां सीट मिली वहीं बैठ गए कुछ लोग खड़े हो गए. जबकि कुछ लोग बस की छत पर बैठ गए. बसों के छतों पर लोगों को बैठा देख कई बच्चे भी बसों के छतों पर जा बैठे.

इधर, बसों में चढ़ने से पहले ना तो लोगों के हाथों को सैनिटाइज किया गया और न ही सोशल डिस्टेंस का ख्याल रखा गया. प्रवासियों को घर जाने की जल्दी थी और बस चालकों को पहुँचाने की. बस चालक भी बिना मास्क गाड़ी चला था. पूछने पर उसने बताया कि यात्रियों के बस की छत पर बैठने की जानकारी हमें नहीं है, अगर पता होता तो नीचे उतार दिया जाता.

इस सम्बंध में जिला परिवहन पदाधिकारी ने बताया की परिवहन विभाग के सचिव के ओर से जो गाइडलाइन दिया गया है, उसी के अनुरूप बसों का परिचालन किया जा रहा है. वहीं सोशल डिस्टेंस और बसों के छतों पर यात्रा करने के सवाल पर कहा की सोशल डिस्टेन्स के लिए जिला प्रसाशन है. अगर परिवहन विभाग को इसकी जानकारी मिलती है तो विभाग कार्रवाई करेगी.

कोरोना संक्रमण के बीच बिहार सरकार ने कोरोना लॉकडाउन 5.0 की घोषणा कर दी है. हालांकि इस बीच सरकार ने लोगों को राहत देते हुए कई गाइडलाइन जारी की है. नीतीश सरकार ने लोगों को बड़ी राहत देते हुए बिहार में सोमवार से राज्य के अंदर बस समेत सभी पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन के परिचालन की अनुमति दे दी है.