जिस बैंक में लगाता था झाड़ू वहीं का करोड़पति खाताधारक बन गया स्वीपर

623
0
SHARE

पूर्णिया: बिहार के पूर्णिया में एक बैंक में दो फर्जी खातों से करोड़ों रुपये के अवैध लेन-देन का खुलासा हुआ है। खास बात ये है कि खाताधारी स्वीपर है और उसे इन दोनों खातों की कोई जानकारी नहीं है।

Read More Purnia News in Hindi

सहायक खजांची थाना क्षेत्र के भट्ठा बाजार स्थित आईसीआईसीआई बैंक में शुक्रवार को अचानक काफी गहमा-गहमी शुरु हो गयी। दरअसल इस बैंक के स्वीपर विक्की मल्लिक के नाम से बने दो फर्जी खातों से करोड़ों रुपये की जमा और निकासी का मामला सामने आया।

बैंक के स्वीपर विक्की मल्लिक का कहना है कि उसके नाम से इस बैंक में 2012 में ही दो फर्जी अकाउन्ट खोला गया। इस खाते से 2013 से लेकर 2016 तक यानि तीन साल में दर्जनों बार करोड़ों रुपये की जमा और निकासी की गई। कई बार तो एकाउन्ट ट्रान्सफर भी हुआ।

बैंक के स्टेटमेन्ट से इस फर्जी लेन-देन का खुलासा हुआ है। विक्की मल्लिक का कहना है कि बैंक के पूर्व मैनेजर पंकज कुमार और कुछ बैंककर्मी इस तरह का गोरखधंधा किया करते थे। विक्की ने कहा कि 2012 में उन लोगों ने उससे कई कागजात भी लिये थे और उसी समय उसका दो फर्जी खाता इस बैंक में खोला गया। विक्की को इस बात की जानकारी तब मिली जब इनकम टैक्स का नोटिस आया।

मामला सामने आने के बाद सहायक खजांची पुलिस भी मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गयी है। बैंक के मैनेजर मामले की तफ्तीश को पहुंचे मीडिया कर्मियों पर ही भड़क गये और किसी तरह की जानकारी देने से मना कर दिया।

श्रोत: ईटीवी