यौन शोषण पर झूठा कौन, पुलिस या पीड़िता!

823
0
SHARE

नवादा: बिहार के नवादा जिले के पकरीबरावां थाना क्षेत्र के इंटर विद्यालय की एक नाबालिग छात्रा से तीन बच्चों के बाप पर अगवा कर यौन शोषण करने का मामला सामने आया है। प्राथमिकी के मुताबिक 26 नवंबर को पकरीबरावां के सिंदुआरा गांव की छात्रा दोसुत स्थित अपने स्कूल के लिए निकली थी तो रास्ते में उसे अपने ही गांव में दामाद के रुप में रह रहे युवक ने जबर्दस्ती अपहरण कर लिया और एक अंजान जगह पर ले गया जहां उसे कमरे में बंद रखता था।

Read More Nawada News in Hindi

नाबालिग लड़की के मुताबिक वे बंद कमरे में वह उससे कई दिनों तक उसका यौन शोषण करता रहा। एक दिन मौका मिलते ही वह उसके चंगुल से भाग निकली। किसी तरह ट्रेन पकड़ वह अपने घर पहुंची और परिजनों को पूरी बात बताई। फिर उसने महिला थाना में आरोपी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। पुलिस के मुताबिक, मामला प्रेम प्रसंग का बताया जा रहा है।

Read Bihar News in Hindi

छात्रा ने बताया कि रास्ते में पहले से घात लगाए गांव के दामाद हरजीत प्रसाद अपने एक सहयोगी के साथ फुलवाड़ियापर नामक जगह से उसे अगवा कर लिया। पीड़िता के मुताबिक आरोपी ने उसके मुंह में गमछा बांध दिया और अज्ञात जगह पर एक कमरे में लाकर बंद कर दिया। आरोपी प्रतिदिन उसके साथ यौन शोषण किया करता था।

लेकिन एक दिसम्बर को वह किसी तरह उसके चंगुल से निकल भागी और समीप के एक स्टेशन से ट्रेन पकड़ कर नवादा आई, जहां से किसी तरह अपने परिजनों को सूचना दिया तब घर पहुंची। लेकिन इस घटना के हफ्ते भर बाद महिला थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

जमुई जिले के सिकंदरा थाना के कुरहाडीह निवासी 35 वर्षीय हरजीत प्रसाद अपने बीबी और तीन बच्चों के साथ सिंदुआरा गांव में आकर बस गया था। वह मकान बनाने का काम किया करता है। महिला थाना प्रभारी ने बताया कि जो परिस्थितियां दिख रही है उससे यह मामला प्रेम प्रसंग का लग रहा है। उन्होंने बताया कि घटना के इतने दिनों बाद प्राथमिकी दर्ज कराना ही शंकित करता है।